- Date: 13 Dec, 2018(Thursday)
Time:
 logo

हरियाणा सरल पोर्टल में कुरुक्षेत्र पहुंचा प्रदेश में टॉप टू पर

मुख्यमंत्री घोषणाओं को समय रहते पूरा करे अधिकारी:चांवरिया

मुख्यमंत्री घोषणाओं को समय रहते पूरा करे अधिकारी:चांवरिया

Sep18,2018 | RAKESH SHARMA | Haryana

कुरुक्षेत्र 18 सितम्बर (राकेश शर्मा ) राज्य सरकार ने हरियाणा सरल पोर्टल से घर बैठे आनलाईन सेवाएं लेने की प्रक्रिया को काफी हद तक सरल करने का काम किया। इस पोर्टल के माध्यम से लोग घर बैठे ही सरकारी सेवाओं का लाभ और विभिन्न विभागों से सम्बन्धित समस्याओं का समाधान करवाने के लिए आनलाईन आवेदन कर सकते है। इस पोर्टल के माध्यम से कुरुक्षेत्र में 1 लाख 77 हजार 461 आवेदन आनलाईन प्रणाली से प्राप्त हुए। इनमें से 1 लाख 72 हजार 656 आवेदनों व समस्याओं को समय रहते हल करने का एक अनूठा कार्य किया। इसके लिए कुरुक्षेत्र को हरियाणा सरल पोर्टल में सबसे ज्यादा शिकायतों का समय पर समाधान करने पर हरियाणा प्रदेश में 22 जिलों में से दुसरा स्थान प्राप्त हुआ। हालांकि पहले स्थान जिला चरखी दादरी को मिला है। अब प्रशासन पहले पायदान की ओर आगे बढ़ रहा है।उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने आज यहां विशेष बातचीत करते हुए बताया कि हरियाणा प्रदेश में सरल पोर्टल से अब घर बैठे आनलाईन सेवाए लेने की प्रक्रिया काफी सरल हो गई है। सरकारी सेवाओं का लाभ लेने के लिए अब लोगों को सरकारी कार्यालयों के चक्कर लगाने की जरुरत नहीं है। किसी भी विभाग से सम्बन्धित समस्या, शिकायत व अन्य काम के लिए कम्पयूटर या मोबाईल पर ही अपना काम करवा सकते है। इसके लिए सरकार ने सरलहरियाणाडाटजीओवीडाटइन पोर्टल बनाया है। इस पोर्टल पर जाकर 200 से ज्यादा सेवाओं का लाभ ले सकते है। इतना ही नहीं सरल हरियाणा पोर्टल पर आनलाईन सुविधाओं में सुधार हो रहा है, जिससे जिला कार्यालयों से भीड़ कम करने और घर बैठे लाभ देने के लिए प्रयास किए जा रहे है। उन्होंने कहा कि जिला कुरुक्षेत्र में सरल पोर्टल पर विभिन्न विभागों से सम्बन्धित समस्याओं का समाधान करवाने और योजनाओं का लाभ लेने के लिए 1 लाख 77 हजार 461 लोगों ने आवेदन किए। इनमें से 1 लाख 72 हजार 656 शिकायतों और आवेदनों का समय रहते समाधान किया गया। इनमें से 4785 आवेदनों पर काम चल रहा है, जिनका निपटारा भी कुछ दिनों में कर दिया जाएगा।उन्होंने बताया कि जिला कुरुक्षेत्र में सरल पोर्टल पर दी गई शिकायतों में से महज 11 प्रतिशत ही ऐसी शिकायते जिनका समाधान करने में 7 दिन से ज्यादा का समय लगा है। इस उपलब्धि को लेकर राज्य सरकार ने 9.1 सरल स्कोर दिया है। इस स्कोर से जिला कुरुक्षेत्र प्रदेश के सभी जिलों में दूसरे स्थान पर है। उन्होंने बताया कि सरल पोर्टल पर हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम की 3 में से 1 शिकायत का समाधान किया गया। इसी तरह नवीनीकरण उर्जा विभाग की 154 में 50, हरियाणा पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक कमजोर सैक्शन कल्याण निगम विभाग की 106 में से 11, एसबीसी कल्याण विभाग की 740 में 304, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की 19 हजार 372 में से 17 हजार 917, बागवानी विभाग की 73 में से 73, अर्बन लोकल बाडिज की 1786 में 1768, जन स्वास्थ्य विभाग की 1477 में से 1473, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की 1593 में से 1542, जिला नगर योजनाकार विभाग की 28 में से 22 और लेबर विभाग की 4173 में 4091 समस्याओं का मौके पर ही समाधान किया गया है। बाक्स 1 लाख 13 हजार 286 लोगों ने राजस्व विभाग को दी आनलाईन दस्तक उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने कहा कि हरियाणा सरल पोर्टल पर राजस्व विभाग से सम्बन्धित शिकायतों और लाभ के लिए 1 लाख 13 हजार 286 लोगों ने आवेदन किए। इनमें से 1 लाख 12 हजार 881 आवेदनों पर तुरंत कार्रवाई की और समस्याओं का समाधान किया गया। इनमें से 392 शिकायतों पर कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा खाद्य एवं आपूर्ति विभाग से सम्बन्धित 15 हजार 664 में से 15 हजार 406 शिकायतों का समाधान किया गया। इसके अलावा उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम के पास 19 हजार 6 लोगों ने आनलाईन आवेदन किया। इनमें से 17 हजार 117 आवेदनों पर तुरंत कार्रवाई की गई है। बाक्स हरियाणा सरल पोर्टल पर किस विभाग की कितनी है सेवाएं उपायुक्त डा. एसएस फुलिया ने कहा कि हरियाणा सरल पोर्टल पर हरियाणा अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम विभाग की 9, नवीनीकरण उर्जा विभाग की 5, हरियाणा पिछड़ा वर्ग एवं आर्थिक कल्याण निगम की 22, एसीबीसी कल्याण विभाग की 5, राजस्व विभाग की 24, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग की 9, खाद्य आपूर्ति विभाग की 10, बागवानी विभाग की 4, अर्बन लोकल बाडिज से सम्बन्धित 20, जन स्वास्थ्य विभाग की 7, हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण की 52, उत्तर हरियाणा बिजली वितरण निगम से सम्बन्धित 9, लेबर विभाग की 54, हरियाणा राज्य उद्योग एवं सरंचनात्मक विकास निगम की 16 सेवाएं उपलब्ध हैं। __________________________ सभी पंजीकृत अवाणिज्य वाहनों पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगानी अनिवार्य, अधिकृत डीलर के माध्यम से सम्बन्धित एसडीएम कार्यालय में लगवा सकते है नम्बर प्लेट--- कुरुक्षेत्र 18 सितम्बर (राकेश शर्मा) उपमंडल अधिकारी नागरिक अनिल यादव ने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय के आदेशानुसार सभी पंजीकृत अवाणिज्य वाहनों पर हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाना अनिवार्य है। जिस भी वाहन पर हाई सिक्योरिटी नम्बर प्लेट नहीं पाई गई तो उस वाहन पर 500 रुपए से लेकर 1 हजार रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। एसडीएम अनिल यादव ने मंगलवार को जारी एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा कि सर्वोच्च न्यायालय में 27 अप्रैल 2012 से पूर्व सभी पंजीकृत अवाणिज्य वाहनों पर हाई सिक्योरिटी रजिस्टे्रशन प्लेट लगवाना अनिवार्य किया गया था। परंतु इसकी पालना सम्बन्धित वाहन स्वामियों द्वारा नहीं की जा रही है। हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट पुराने व नए सभी प्रकार के वाहनों पर लगाना अति अनिवार्य किया गया है। इसके नहीं लगे होने के कारण वाहन चोरी और अपराध में शामिल होने की सम्भावना अधिक बढ़ जाती है। उन्होंने कहा कि हरियाणा परिवहन विभाग की 19 अप्रैल 2017 को जारी अधिसूचना में स्पष्टï भी किया गया है कि मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 177 के अंतर्गत वाहन पर हाई सिक्योरिटी प्लेट न लगाने पर 500 रुपए से लेकर 1 हजार रुपए जुर्माने का भी प्रावधान है। एसडीएम ने कहा कि यह रजिस्ट्रेशन प्लेट सम्बन्धित अधिकृत डीलर व वर्कशाप के माध्यम से सम्बन्धित एसडीएम कार्यालय तथा लिंक उत्सव रजिस्ट्रेशन प्लेट प्राईवेट लिमिटेड के केन्द्रों पर भी लगवाई जा सकती है। इसलिए सभी लोग अपने वाहन की सुरक्षा के लिए हाई सिक्योरिटी रजिस्ट्रेशन प्लेट लगवाना सुनिश्ति करे, अन्यथा प्रदेश के प्रवर्तन अधिकारियों द्वारा मोटर वाहन अधिनियम 1988 की धारा 177 के अंतर्गत यह प्लेट न लगाए जाने पर इस अधिनियम के अंतर्गत चालान किया जाएगा। __________________ मुख्यमंत्री घोषणाओं को समय रहते पूरा करे अधिकारी:चांवरिया --पिहोवा :-(राकेश शर्मा) एसडीएम पूजा चांवरिया ने कहा कि मुखयमंत्री की घोषणाओं को समय पर पूरा करने का अधिकारी हर सम्भव प्रयास करे। इस मामले में किसी प्रकार की कोताही सहन नहीं की जाएगी। जो भी अधिकारी लापरवाही बरतेगा उसके खिलाफ कार्रवाई भी अमल में लाई जाएगी।एसडीएम पूजा चांवरिया मंगलवार को अपने कार्यालय में मुखयमंत्री घोषणाओं से सम्बन्धित कार्यों की समीक्षा को लेकर अधिकारियों की एक बैठक को सम्बोधित कर रही थी। उन्होंने पीडब्ल्यूडी, जन स्वास्थ्य, बिजली एवं सिंचाई विभाग एवं निर्माण कार्यों से जुड़े अधिकारियों से कहा कि जहां-जहां निर्माण कार्य चल रहे हैं, वहां मौके पर निरीक्षण करें एवं निर्माण सामग्री की समय-समय पर गुणवत्ता भी जांचे। मुख्यमंत्री की घोषणाओं को चरणबद्घ तरीके से पूरा करवाएं एवं प्रत्येक साईट का समय निर्धारित करें तथा अधिकारियों को निर्देश दिए कि समय-समय पर निरीक्षण करते रहें एवं अपनी प्रगति रिपोर्ट इस कार्यालय में देते रहें।उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि महीने के आखिरी में पिहोवा राहगिरी कार्यक्रम का आयोजन किया जाना है। परंपरागत खेलों को बढ़ावा देने के लिए इस प्रकार के कार्यक्रम महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। लोग भी एकांतवास से निकलकर राहगिरी जैसे कार्यक्रम में शिरकत कर एक-दूसरे को समझने व विचार सांझा करने के लिए आगे आ रहे हैं और यही वजह है कि राहगिरी कार्यक्रम न केवल सफल हो रहे हैं, बल्कि लोगों का रूझान लुप्त हो रहे परंपरागत खेलों की तरफ भी बढ़ रहा है। उन्होंने खेल विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि राहगिरी कार्यक्रम में विभिन्न खेलों के अलावा खेलों का सामान एवं खिलाडिय़ों की भागीदारी सुनिश्चित करें ताकि अधिक से अधिक युवाओं को इस कार्यक्रम से जोड़ा जा सके। उन्होंने बताया कि इस राहगिरी कार्यक्रम में परंपरागत खेल जैसे रस्सा कशी, स्टापु, गिल्ली डंडा, कब्बड्डïी, कुश्ती, वालीबॉल, बैडमिंटन, क्रिकेट आदि खेल रखे जाएंगे, जिसमें कोई भी अपने हाथ आजमा सकता है। राहगिरी कार्यक्रम में तीन से अधिक जगहों पर डांस कार्यक्रम का भी आयोजन किया जाएगा। कोई मनोरंजक चुटकुले, हास्य कविता व अन्य हास्य कार्यक्रम प्रस्तुत करना चाहे, तो उसके लिए भी स्टेज का प्रबंध रहेगा। पोलीथीन मुक्त पिहोवा एवं पर्यावरण सरंक्षण के दृष्टिïगत इस कार्यक्रम में बोतल बंद पानी, प्लास्टिक ग्लास के प्रयोग पर पूर्ण प्रतिबंध रहेगा। इनकी जगह पानी के मटके रखे जाएंगे ताकि लोगों को स्वच्छ पेयजल मुहैया हो सके। उन्होंने बताया कि पानी की बोतलें व प्लास्टिक नालियां में चला जाए तो उसे अवरूद्घ कर देता है, जिससे नालियों का गंदा पानी सडक़ों पर बहने लगता है। प्लास्टिक सीवरेज में आ जाए तो उसे जाम कर देता है, जो न केवल बीमारियों का कारण बनता है, बल्कि लोगों के स्वास्थ्य पर भी विपरित असर डालता है। प्लास्टिक का उपयोग न करने बारे भी संदेश दिया जाएगा। इस मौके पर शिक्षा विभाग, लोक निर्माण, सिंचाई, बिजली विभाग के कार्यकारी अभियंता सहित कई अधिकारी उपस्थित थे। बाक्स सक्षम योजना के तहत स्कूलों की स्थिति सुधारने के दिए निर्देश मंगलवार को एसडीएम पूजा चांवरिया ने अपने कार्यालय में सक्षम योजना की एक रिव्यू बैठक ली। इस बैठक में खंड शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र गर्ग, बीआरपी मिंटी रोहिल्ला, विजेता रानी, एबीआरसी दिनेश महला व पिहोवा खंड के स्कूलों के मुखियाओं ने भाग लिया। इस बैठक में खराब प्रदर्शन देने वाले स्कूलों से उनका कारण पूछा गया व उनके स्कूलों के शिक्षा स्तर को सुधारने बारे विचार-विमर्श किया गया। उन्होंने अध्यापकों को अपडेट न रहने के लिए लताड़ भी लगाई। उन्होंने शिक्षकों को पढ़ाए जाने वाले विषय पर अपनी पकड़ बनाएं रखने व उनके प्रति अपडेट रहने बारे कहा ताकि बच्चों को उचित शिक्षा दी जा सके। एसडीएम पूजा चांविरया ने निणर्य लिया कि 19 सितंबर को वे स्वयं इन स्कूलों का निरीक्षण करेंगी व बच्चों के शैक्षणिक स्तर को जांचेगी। ____________________ एम-परिवहन एैप दुर्घटनाओं को रोकने में करेगा मदद-- कोई भी व्यक्ति यातायात के नियमों की उल्लघंना करने वाले की फोटो या वीडियों डाल सकता है एम-परिवहन एैप पर:- डीसी डा. एसएस फुलिया ---कुरूक्षेत्र :-(राकेश शर्मा) डीसी डा. एसएस फुलिया ने कहा कि दुर्घटनाओं को रोकने के लिए एम-परिवहन एैप बहुत ही कारगार साबित होगा। यह एक ऐसा एैप है जिस पर कोई भी व्यक्ति यातायात के नियमों की उल्लंघना करने वाले व्यक्ति की वीडियों या फोटो बनाकर इस एैप पर डाल सकता है। इस एैप से सम्बन्धित के खिलाफ सरकार द्वारा निर्धारित मापदंडों के तहत यातायात के नियमों की उल्लंघना करने के दृष्टिïगत कार्रवाई हो सकती है। डीसी ने यह भी बताया कि गलत पार्किंग करना, सीट बैल्ट ना लगाना, बिना हेलमेंट के सफर करना, गलत साईड से गाडी क्रास करना, थी्रराईडर या फिर गाडी चलाते समय फोन का प्रयोग करना इत्यादि यातायात के नियमों की उल्लंघना है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वे यातायात के नियमों का पालन करें और दुर्घटनाओं से बचें। इस मौके पर एडीसी अनिश यादव, डीडीए डा. कर्मचंद, डीआईपीआरओ धर्मवीर सिंह, डीआईओ एनआईसी विनोद सिंगला, कार्यकारी अभियंता पीडब्लयूडी जेपी कम्बोज, एलडीएम हरि सिंह बूमरा भी उपस्थित थे। ------------------------------- चिंतन शिविर के तहत स्कीमों का जन-जन तक लाभ पहुंचाएं अधिकारी-- स्कीमों को लागू करने में नहीं होनी चाहिए लापरवाही:- डीसी डा. एसएस फुलिया --कुरूक्षेत्र: डीसी डा. एसएस फुलिया ने कहा कि चिंतन शिविर के तहत थानेसर ब्लॉक को लिया गया है। जिसके तहत स्कीमों की जानकारी जन-जन तक पहुंचाने के लिए चिंतन शिविर भी लगाएं जाते है और निर्धारित कार्यक्रम के तहत स्कीमों के क्रिन्यावन बारे समीक्षा भी की जाती है। बैठक में डीसी के पूछने पर उपनिदेश कृषि कर्मचंद ने बताया कि चिंतन शिविर के पहलुओं में एक पहलु यह भी है कि जैविक खेती को बढ़ावा दिया जाए और रसायनिक खादों का प्रयोग कब हो इस विषय को लेकर जानकारी दी जाए। इस दिशा में विभाग के अधिकारियों द्वारा समय-समय पर लगाएं जाने वाले जागरूकता शिविरों में जानकारी दी जाती है। उन्होंने यह भी बताया कि विभाग द्वारा सेक्टर 7 स्थित कार्यालय में एक बिक्री केन्द्र स्थापित किया गया है। इस केन्द्र से कोई भी किसान जैविक खाद, गुड, शक्कर, दलहन, तिलहन, सब्जियां, फल जैसे अन्य खादय सामग्री जो प्रमाणित जैविक हो बेच सकता है। बैठक में उपस्थित हरि सिंह बूमरा ने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा जनहित की अनेक कल्याणकारी योजनाएं शुरू की गई है, जिसमें प्रधानमंत्री मुद्रा योजना बहुत ही बेहतरीन योजना है, शीशु योजना के तहत कोई भी व्यक्ति अपना कारोबार स्थापित करने या बढ़ाने के लिए 50 हजार रुपए तक का तथा किशोर योजना के तहत 50 हजार से 5 लाख रुपए तथा तरूण के तहत 5 लाख से 10लाख रुपए तक का ऋण कम ब्याज पर देने का प्रावधान है। इन स्कीमों का लोगों को लाभ उठाना चाहिए। मौके पर एडीसी अनिश यादव सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे।

हरियाणा सरल पोर्टल में कुरुक्षेत्र पहुंचा प्रदेश में टॉप टू पर 68


हरियाणा सरल पोर्टल में कुरुक्षेत्र पहुंचा प्रदेश में टॉप टू पर
हरियाणा सरल पोर्टल में कुरुक्षेत्र पहुंचा प्रदेश म

Comments


About Us


Jagrati Lahar is an English, Hindi and Punjabi language news paper as well as web portal. Since its launch, Jagrati Lahar has created a niche for itself for true and fast reporting among its readers in India.

Gautam Jalandhari (Editor)

Subscribe Us


Vists Counter

HITS : 5388735

Address


Jagrati Lahar
Jalandhar Bypass Chowk, G T Road (West), Ludhiana - 141008
Mobile: +91 161 5010161 Mobile: +91 81462 00161
Land Line: +91 161 5010161
Email: gautamk05@gmail.com, @: jagratilahar@gmail.com