- Date: 14 Dec, 2019 Saturday
Time:

गुरु से ज्ञान प्राप्त करने के लिए प्रथम आवश्यकता समर्पण की होती है :- अशोक जैन

सौभाग्यशाली भटनागर परिवार ने 888 वें हवन यज्ञ में आहुति डाल की अरदास

Nov27, 2019 / Balraj Khanna / Ludhiana

सिद्व पीठ महाबली संकटमोचन श्री हनुमान मंदिर प्रांगण में श्रंखलाबद्ध संध्या चौंकी का आयोजन प्रधान अशोक जैन की अध्यक्षता में किया गया प्रातः मंदिर प्रांगण में 888 वां हवन यज्ञ इन्दर मोहन लाल,कुसम भटनागर.अश्वनी भटनागर,अक्षत भटनागर,चारु भटनागर परिवार द्वारा करवाया गया हवन यज्ञ में परिवारिक सदस्यों व् मंदिर कमेटी के समस्त अधिकारी पदाधिकारियों ने सम्पूर्ण आहुतियां डाल कर जनकल्याण के लिए अरदास की हवन यज्ञ मंदिर के आचार्यों पंडित विष्णु,पंडित देवी दयाल,पंडित रामजी,पंडित सुरेश,पंडित विश्राम,पंडित संजय ने मंत्रोउच्चारण के साथ सम्पूर्ण करवाया।संध्या चौंकी में प्रसिद्ध गायक शुभम बत्रा (अम्बाला) एंड पार्टी ने श्री बाला जी दरबार समक्ष अपने भजनों के माध्यम से हाजिरी लगाई। संध्या चौंकी में भंडारे की सेवा का सौभाग्य भी भटनागर परिवार को प्राप्त हुआ व् सौभाग्यशाली विनय शर्मा परिवार द्वारा संध्या चौंकी के अवसर पर सवा मनी का भोग लगाया गया। इस अवसर पर प्रधान अशोक जैन ने कहा कि गुरु के महत्व पर संत शिरोमणि तुलसीदास ने रामचरितमानस में लिखा है – गुर बिनु भवनिधि तरइ न कोई।जों बिरंचि संकर सम होई।।अर्थात भले ही कोई ब्रह्मा, शंकर के समान क्यों न हो, वह गुरु के बिना भव सागर पार नहीं कर सकता। धरती के आरंभ से ही गुरु की अनिवार्यता पर प्रकाश डाला गया है। वेदों, उपनिषदों, पुराणों, रामायण, गीता, गुरुग्रन्थ साहिब आदि सभी धर्मग्रन्थों एवं सभी महान संतों द्वारा गुरु की महिमा का गुणगान किया गया है कि गुरु और भगवान में कोई अन्तर नहीं है।प्रधान अशोक जैन ने कहा कि किसी गुरु से ज्ञान प्राप्त करने के लिए प्रथम आवश्यकता समर्पण की होती है। समर्पण भाव से ही गुरु का प्रसाद शिष्य को मिलता है।इस अवसर पर कुसुम भटनागर को उनकी 50 वीं सालगिरह पर मंदिर कमेटी द्वारा विशेष रूप से सन्मानित किया गया। दरबार में मुख्य रूप से भाजपा नेता गोल्डी सभरवाल,नवनियुक्त मंडल प्रधान किदवई नगर गुरप्रीत सिंह,पंडित शिवम भारद्वाज,शैंपी खुराना,विजय खटल नतमस्तक हुए जिनका मंदिर कमेटी की तरफ से स्वागत किया। इस अवसर पर मंदिर संकीर्तन मंडली के भजन गायक बलजीत सिंह पीता व् रोहित डंग ने भजनो के माध्यम से मंदिर के आचार्यों द्वारा सभी दरबारों में भोग लगाया गया पवित्र श्री बालाजी महाराज का ध्वज लहराया गया व् श्री मेहंदीपुर बालाजी व् सालासर श्री बालाजी धाम के पवित्र छींटे आये भगतों पर दिए गए।मंदिर के आचार्यों पंडित विष्णु,पंडित देवी दयाल,पंडित रामजी,पंडित सुरेश,पंडित विश्राम,पंडित संजय द्वारा विधिविधान के साथ श्री हनुमान चालीसा पाठ किया गया पाठ के उपरान्त संध्या चौंकी को विराम दिया गया।इस अवसर पर इस अवसर पर अमृत लाल वर्मा,सोमनाथ मड़कन,ऋषि जैन,अमन जैन,अनुज मदान,अरविन्द टिल्लू,ज्योति गुप्ता,संजय गुप्ता,सतीश डंग,भारती सोनी,मदन लाल मदान,सन्दीप धमीजा,नवल जैन,निशांत चोपड़ा,विश्वनाथ सेठी,नरिंदर नंदू ,बलजीत सिंह पीता,रोहित डंग,सुनील कुमार,दीपक घई,अशोक गुप्ता,आदि उपस्थित हुए।

Bala-Ji-Mandir-Joshi-Nagar-Dham-Ludhiana 132


About Us


Jagrati Lahar is an English, Hindi and Punjabi language news paper as well as web portal. Since its launch, Jagrati Lahar has created a niche for itself for true and fast reporting among its readers in India.

Gautam Jalandhari (Editor)

Subscribe Us


Vists Counter

HITS : 7857256

Address


Jagrati Lahar
Jalandhar Bypass Chowk, G T Road (West), Ludhiana - 141008.
Mobile: +91 161 5010161 Mobile: +91 81462 00161
Land Line: +91 161 5010161
Email: gautamk05@gmail.com, @: jagratilahar@gmail.com